उम्मीदों की खिड़की | कभी अगर मैं रूठ जाऊं | खोजने से मिल जाता है

खोजने से मिल जाता है
कोई अच्छा दोस्त
जो अपना सा हो
और दिल के बहुत करीब हो।
– Anita Gupta


जी हाँ खोजने से मिल जाता है……
दिल जिसे शिद्दत से चाहता है……..
बस गुमान न करना अपनी हस्ती पे…..
वर्ना वो फिर खो जाता है…,,,
हाँ खोजने पर सब मिल जाता हैं !
– Seema Bhargave


खोजने से मिल जाता है गुनाहों की बस्ती में भी कोई देवता ।
लाख कोशिशें करे ज़माना ,
इंसानियत के फूल सेहरा में भी खिल जाते हैं ।।
– Ranjana Majumdar


स्वयं की खोज में हूँ,
सत्य की खोज में हूँ।
– Sarvesh Kumar Gupta


खुद से खुद का साक्षात्कार
जीवन की आधारभूत ज़रूरत है।
निज पहचान निज प्रेम की पहली
ज़रूरत है।
निराशाओं के बोझ तले दबे हम
खुद को तिरस्कृत करते हैं।
खुद से खुद का मिलन मुश्किल है
ये कह कर बात टाल देते हैं।
ये हार का परिचायक है।
और इस हार मे अपना सब कुछ
खो देते हैं।
खोजने से मिल जाता है खुदा भी
तो खुद की क्या बात है।
कोशिश करके तो देखो
मन के अंधेरों को टटोल कर तो देखो।
खुद मे खुदा का अक्स दिखेगा
बस एक बार खुद से खुद का
साक्षात्कार करके तो देखो…….
– Pratibha Ahuja Nagpal


You May Also Like To Read 

Leave a Comment