नदी के दो किनारे की तरह होते हैं कुछ रिश्ते

नदी के दो किनारे की तरह होते हैं कुछ रिश्ते

नदी के दो किनारे की तरह होते हैं कुछ रिश्ते थोड़े बेबुन्यादी, तो कुछ कच्चे-पक्के से होते हैं ये रिश्ते कुछ तूफानी, कुछ सरल थोड़े बेगानी, थोड़े मतलबी तो कुछ वक्त के साथ बदलते हैं … Read more

मैं क्यूँ लिखती हूँ

मैं क्यों लिखती हूँ

मैं क्यों लिखती हूँ श्याम से श्वेत तक कुछ रंगों की , बिखरी कथाओं को और, कभी कुछ हार्दिक यादों को समेटती हूँ, कभी आनंदित संतुलन के स्तर तक आत्मा को ऊपर उठाने का प्रयास … Read more

आकाश बहुत ऊँचा है और दूर बहुत हैं तारे

आकाश बहुत ऊँचा है और दूर बहुत हैं तारे

आकाश बहुत ऊँचा है और दूर बहुत हैं तारे आकाश बहुत ऊँचा है और दूर बहुत हैं तारे पर जब तुम पास होते हो मेरे तो सपने सच होते हैं सारे नभ का अँधेरा छट … Read more

apne sapno mein हम अपने सपनों में जीते मरते हैं

हम अपने सपने में जीते मरते हैं

हम अपने सपने में जीते मरते हैं हम अपने सपने में जीते मरते हैं पर ये तो हमारी किस्मत ही बताएगी कि कौन किसके पनाह में है… सपने होते हैं परछाई से जो रात ढ़लते आते हैं … Read more

समय का पहिया

समय का पहिया

समय का पहिया आपके साथ बिताये पलों को हम हमेशा याद करेंगे चले जाने पे भी जो टूटे नहीं वही तो दिलों का रिश्ता है| एक पंछी हूँ जहाँ उसका ठिकना है कुछ पल गम … Read more

नए शहर की वो पहली रात

नए शहर की वो पहली रात [Naye Shahar Ki Woh Pahalee Raat]

नए शहर की वो पहली रात नया था माहौल नयी सी बेचैनी और नई सी आबोहवा थी आँखों में कुछ नए-नए से सपने थे कितने ही सवाल मन को गुद्गुताते थे और कुछ मन में … Read more

happy holi खेल लेना तुम होली आज मेरे बगैर

khel lena tum holi aaj mere bagair खेल लेना तुम होली आज मेरे बगैर

khel lena tum holi aaj mere bagair खेल लेना तुम होली आज मेरे बगैर रंग रौशनी है रंग खुशबू है रंग मौसकी है रंग एक एहसास है रंग ही तो इस फीके से जीवन में … Read more

कुछ इस तरह से तुझको जिया है मैने ऐ ज़िन्दगी

हर चुनौती को स्वीकारा है मैंने

हर चुनौती को स्वीकारा है मैंने कुछ इस तरह से तुझको जिया है मैंने ऐ ज़िन्दगी कि तेरे हर रंग से मैने होली खेली है। कभी दोस्तों के साथ तो कभी अकेले ही मैने ये … Read more

Don`t copy text!