अतिथि Post: Ranjeeta Ashesh, गुलाबी शहर

अतिथि Post Ranjeeta Ashesh गुलाबी शहर2

अतिथि Post: Ranjeeta Ashesh, गुलाबी शहर गुलाबी शहर चौक की दीवारें गुलाबी रंग वाली कहीं सूखी लाल मिर्च का ढेर तो कहीं लक्ष्मी मिष्ठान की शाही थाली। जब जंतर मंतर की देखी कार्य प्रणाली सूरज,ग्रह, समय,नक्षत्र के अद्भुत मेल ने मेरे ज्ञान की जड़े हिला डाली। कहीं भागते लोग,कहीं गाड़ियों का शोर रंग बिरंगे लहंगे … Read more अतिथि Post: Ranjeeta Ashesh, गुलाबी शहर

मैं क्यों लिखती हूँ

मैं क्यूँ लिखती हूँ

मैं क्यों लिखती हूँ श्याम से श्वेत तक कुछ रंगों की , बिखरी कथाओं को और, कभी कुछ हार्दिक यादों को समेटती हूँ, कभी आनंदित संतुलन के स्तर तक आत्मा को ऊपर उठाने का प्रयास करती हूँ, तो कभी मैं लिख कर सुंदर अनुभव को परिभाषित करने का प्रयास करती हूँ, इसीलिए मैं लिखती हूँ… … Read more मैं क्यों लिखती हूँ

Don`t copy text!